Baglamukhi Mahasadhana

-1%

Baglamukhi Mahasadhana

Baglamukhi Mahasadhana

150.00 149.00

In stock

150.00 149.00

Author: Yogiraj Yashpal

Availability: 5 in stock

Pages: 126

Year: 2019

Binding: Paperback

ISBN: 0

Language: Hindi

Publisher: Randhir Prakashan

Description

बगलामुखी महासाधना

भारतवर्ष की शिवालिक पर्वत की श्रेणियों से समूचे विश्व में भारतीय गुप्त विद्याओं, पराविज्ञान एवं तन्त्र ज्ञान का प्रचार प्रसार करने वाले योगीराज यशपाल जी ज्ञानमहार्णव के एक शक्तिशाली प्रतीक बनकर उभरे थे। इसी कारण उन्हें ज्ञान भास्कर इत्यादि अनेकों उपाधियों से विभूषित किया गया था। वह भारतीय आर्ष परम्पराओं में मंत्र-तंत्र एवं अध्यात्म के उपदेशक, पथ-प्रदर्शक तथा गुद्य विद्याओं के प्रणेता कहे जाने लगे थे वह गृहस्थी से उपराम होकर ईश्वर रूपी इस संसार के लिए पूर्ण रूप से समर्पित हो चुके थे। प्रस्तुत पुस्तक भी उनकी शक्तिशाली लेखनी से निःसृत अत्यन्त खोजपूर्ण और साधकों के लिए उपयोगी एवं संग्रहणीय है।

बगलामुखी महासाधना

यह शक्ति विष्णु के तेज से युक्त होने के कारण वैष्णवी है। मंगलवार युक्त चतुर्दशी की अर्द्धरात्रि में इनका आविर्भाव हुआ है। दैवी प्रकोप से बचने हेतु इसका उपयोग शांतिधर्म, धनधान्य प्राप्ति के लिए पौष्टिक कर्म तथा शत्रु निग्रह के लिए होता है। भोग और मोक्ष दोनों की देने वाली इस देवी की उपासना से प्रत्येक दुर्लभ वस्तु की प्राप्ति की जा सकती है।

– यशपाल ‘भारती’

Additional information

Authors

Binding

Paperback

ISBN

Language

Hindi

Pages

Pulisher

Publishing Year

2019

Reviews

There are no reviews yet.


Be the first to review “Baglamukhi Mahasadhana”

You've just added this product to the cart:

error: Content is protected !!