Galiyon Ke Shahzade

-17%

Galiyon Ke Shahzade

Galiyon Ke Shahzade

300.00 250.00

In stock

300.00 250.00

Author: Nasira Sharma

Availability: 5 in stock

Pages: 144

Year: 2019

Binding: Hardbound

ISBN: 9789353222338

Language: Hindi

Publisher: Prabhat Prakashan

Description

गलियों के शहजादें
नासिरा शर्मा के उपन्यासों एवं कहानियों में बच्चों के चरित्र एक विशेष भूमिका के रूप में नज़र आते हैं, जो कभी आपकी उँगली पकड़कर तो कभी आप उनकी उँगली पकड़कर चलने लगते हैं और आप खुद से सवाल करने पर मजबूर हो जाते हैं कि इन बच्चों की दयनीय स्थिति का ज़िम्मेदार कौन है— परिस्थितियाँ, समाज या व्यवस्था या आप खुद ? दरिद्रता और अपनों से लापरवाही तो अहम कारणों में से हैं, परंतु रिश्तों में सहृदयता व सरोकार जैसे चुकते जा रहे हों और ये कहानियाँ अपने बाल-चरित्रों द्वारा हमें झिंझोड़ने का काम करती हैं।

बच्चे किसी भी नस्ल, धर्म एवं जाति के हों, वे मानव समाज का विस्तार और मानवीय मूल्यों की अमूल्य संपदा हैं, जो किसी भी देश का भविष्य निर्धारित करने में अहम भूमिका निभाने में अपना योगदान देंगे। आज अनेक तरह की विपदाएँ हमारे सामने हैं, जिनमें प्राकृतिक एवं युद्ध की विषमताएँ भी शामिल हैं और परिवार के टूटने एवं रिश्तों के प्रति संवेदनहीन होने की समस्या भी। इन सारी कठिनाइयों को एक मासूम बच्चा कैसे सहता है और उसके मन-मस्तिष्क में अटके उन दृश्यों का  मनोविज्ञान  क्या  होता  है—इन कहानियों द्वारा पाठक बहुत कुछ महसूस करेंगे।


अनुक्रम
1. फिर कभी 9
2. काला सूरज 18
3. गूँगी गवाही 22
4. उसका बेटा 41
5. मिट्टी का स़फर 49
6. मिस्टर ब्राउनी 63
7. असली बात 77
8. मटमैला पानी 85
9. सबीना के चालीस चोर 94
10. आया बसंत सखी 117
11. ज़रा सी बात 132
12. गलियों के शहज़ादे 138

Additional information

Authors

Binding

Hardbound

ISBN

Language

Hindi

Pages

Publishing Year

2019

Pulisher

Reviews

There are no reviews yet.


Be the first to review “Galiyon Ke Shahzade”

You've just added this product to the cart:

error: Content is protected !!