Mridula Garg ki Yadgari Kahaniyan

-1%

Mridula Garg ki Yadgari Kahaniyan

Mridula Garg ki Yadgari Kahaniyan

150.00 149.00

In stock

150.00 149.00

Author: Mridula Garg

Availability: 5 in stock

Pages: 208

Year: 2019

Binding: Paperback

ISBN: 9789353491062

Language: Hindi

Publisher: Penguin India

Description

मृदुला गर्ग की यादगारी कहानियां

स्त्रीवादी विमर्श में अग्रणी स्थान रखने वाली मृदुला गर्ग ने नई कहानी के दौर के बाद हिन्दी कथा साहित्य में भी विशिष्ट पहचान बनाई है। इनकी कहानियों में व्यक्ति से समाज और समाज के बीच की आवाजाही निरंतर नज़र आती है। प्रस्तुत संकलन में संकलित कहानियां भारतीय मन के खुलासे की कहानियां हैं, जो कहीं अपनी जड़ों से जुड़ने की ललक रखती हैं, तो कहीं मुखौटों के उतरने की विवशता। श्रीमती गर्ग समाज सेवा में काफी सक्रिय भूमिका निभाती हैं, इसलिए इनकी कहानियां समाज का वास्तविक दर्पण बन पड़ी हैं, यही इनकी सबसे बड़ी विशेषता है। इन्हें अनेक साहित्य और सामाजिक पुरस्कार प्राप्त हो चुके हैं।

1938 में जन्मी मृदुला गर्ग आधुनिक हिन्दी साहित्य के लेखकों में अत्यंत प्रमुखता से जानी जाती हैं। इनके अब तक छः उपन्यास, नौ लघुकथा संग्रह, दो नाटक और दो निबंध संग्रह प्रकाशित हो चुके हैं। साहित्य में इन्होंने अपना विशिष्ट स्थान बनाया है।

Additional information

Authors

Binding

Paperback

ISBN

Language

Hindi

Pages

Publishing Year

2019

Pulisher

Reviews

There are no reviews yet.


Be the first to review “Mridula Garg ki Yadgari Kahaniyan”

You've just added this product to the cart:

error: Content is protected !!