Aadhunik Hindi Sahitya Ka Itihas

-18%

Aadhunik Hindi Sahitya Ka Itihas

Aadhunik Hindi Sahitya Ka Itihas

500.00 410.00

In stock

500.00 410.00

Author: Bachchan Singh

Availability: 5 in stock

Pages: 395

Year: 2016

Binding: Hardbound

ISBN: 9788180311017

Language: Hindi

Publisher: Lokbharti Prakashan

Description

आधुनिक हिन्दी साहित्य का इतिहास

आधुनिक युग इतनी तेजी से बदल रहा है कि साहित्य के बदलाव से भी उसे समझा जा सकता है। इस बदलाव को, क्षिप्रतर बदलाव को साहित्य और इतिहास दोनों के संदर्भों में एक साथ पकड़ना ही इतिहास है। यह पकड़ तब तक विश्वसनीय नहीं हो सकती जब तक समसामयिक अखबारी साहित्य को श्रेष्ठ भविष्योन्मुखी साहित्य से अलगाया न जाय। प्रत्येक युग का आधुनिक काल ऐसे साहित्य से भरा रहता है जो साहित्येतिहास के दायरे में नहीं आता। किन्तु यह जरूरी नहीं है कि हम अपने इतिहास के लिए ग्रंथों का जो अनुक्रम प्रस्तुत करेंगे वह कल भी ठीक होगा, अपरिवर्तनीय होगा।

इस नये संस्करण में कुछ पुरानी बातों को बदल दिया गया है और नये तथ्यों के आधार पर उनका नया अर्थापन किया गया है। इस संस्करण को अद्यतन बनाने के लिए बहुत सारे लेखकों, कवियों और रचनाकारों को भी सम्मिलित कर लिया गया है अब यह अद्यतन रूप में आपके सामने है।

Additional information

Authors

Binding

Hardbound

ISBN

9788180311017

Language

Hindi

Pages

395

Publishing Year

2016

Pulisher

Reviews

There are no reviews yet.


Be the first to review “Aadhunik Hindi Sahitya Ka Itihas”

You've just added this product to the cart:

error: Content is protected !!